शाहपुरा न्यूजबड़ी खबरभीलवाड़ा न्यूज

अधिवक्ताओं का कल्याण, सम्मान व सुरक्षा है मंच का मुख्य उद्देश्य-चंद्रकुमार वालेजा

न्यायपालिका की स्वतंत्रता को भंग करने का षड़यंत्र कामयाब नहीं होने देंगे,राजस्थान की न्यायपालिका का नहीं है कोई सानी-डॉ.मनोज आहूजा

  • बैरागढ़


अखिल भारतीय संयुक्त अधिवक्ता मंच के स्थापना दिवस के अवसर पर आयोजित राष्ट्रीय सेमीनार में डेलिगेट्स ने लिया भाग


मूलचंद पेसवानी
जिला संवाददाता

मूलचंद पेसवानी वरिष्ठ पत्रकार, जिला संवाददाता - शाहपुरा / भीलवाड़ा 

callwebsite

अखिल भारतीय संयुक्त अधिवक्ता मंच के तृतीय स्थापना दिवस के अवसर पर शुक्रवार 31 मई को संत हिरदाराम नगरी बेरागढ़ के फॉर्चून गार्डन में राष्ट्रीय सेमीनार का आयोजन राष्ट्रीय अध्यक्ष वरिष्ठ अधिवक्ता चंद्र कुमार वालेजा तथा प्रदेश अध्यक्ष शैलेन्द्र सक्सेना की अध्यक्षता में सम्पन्न हुआ।


कार्यक्रम का शुभारम्भ राष्ट्रगान तथा माँ सरस्वती की वंदना के साथ हुआ।कार्यक्रम में देश के विभिन्न प्रदेशों से आए हुए डेलिगेट्स ने वार्षिक रिपोर्ट प्रस्तुत कर अधिवक्ता सुरक्षा क़ानून लागु करवाने के सम्बन्ध में किये गए प्रयासों की जानकारी दी। इससे पूर्व मंचासीन चंद्रकुमार वालेजा, शैलेन्द्र सक्सेना,संगठन संरक्षक केदारनाथ गौतम,राष्ट्रीय प्रभारी माधव मालवीया,संस्थापक रामगोपाल गुप्ता, राजेश पंजवानी,संस्थापक मनोज सनपाल,दीपक पंजवानी,उत्तर प्रदेश अध्यक्ष गंगा प्रसाद यादव,राजस्थान अध्यक्ष मनोहर चंचलानी,भोपाल बार अध्यक्ष दीपक भाई,गुजरात अध्यक्ष जयशंकर प्रजापति,महाराष्ट्र अध्यक्ष विलास राव,अजमेर संभाग अध्यक्ष डॉ.मनोज आहूजा का ढ़ोल बजाकर अगवानी करते हुए मंच पर माला पहनाकर अभिनन्दन किया गया।

कार्यक्रम को राष्ट्रीय अध्यक्ष चंद्र कुमार वालेजा,शैलेन्द्र सक्सेना,डॉ.मनोज आहूजा,केके शर्मा,पवन सक्सेना, छत्रपति शर्मा,अहमदाबाद से बसंतिया भट्ट,अंजलि श्रीवास्तव,लखनऊ से रचना रिया मिश्रा,वेदप्रकाश,सलोनी, सूरत से प्रीती जोशी,अजमेर से अशोक सिंह रावत,इंदर कुमार जैन, सुधीर पांडे,सौरभ कुमार सहित वक्ताओं ने सम्बोधित करते हुए अखिल भारतीय अधिवक्ता संयुक्त अधिवक्ता मंच द्वारा किये जा रहे प्रयासों की सराहना की।

राष्ट्रीय अध्यक्ष वालेजा ने कहा कि मंच का उद्देश्य अधिवक्ताओं का कल्याण, उनके सम्मान में बदौत्तरी व सुरक्षा प्रदान करना है।उन्होंने कहा कि मंच ने 17 प्रदेशों में अपनी कार्यकारिणी का विस्तार करते हुए हजारों अधिवक्ताओं को जोड़ने में सफलता हासिल की है उन्होंने कहा कि अधिवक्ता सुरक्षा क़ानून लागु करवाने के लिए मंच द्वारा लगातार प्रयास किया जा रहा है तथा राजस्थान प्रदेश में यह क़ानून लागु किया जा चुका है अब मंच देशव्यापी आंदोलन कर इसे लागु करवाने की दिशा में रुपरेखा तैयार कर रहा है उन्होंने देश के विभिन्न प्रांतों से आए हुए डेलिगेट्स का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि आप सभी के आने से ही संगठन को मजबूती मिली है आगे भी आप इसी तरह एकजुट रहकर अपने अधिकारों की मांग करें जिससे हम सभी संगठन के महान उद्देष्यों को हासिल कर सकेंगे।

अजमेर संभाग अध्यक्ष डॉ.मनोज आहूजा ने कहा कि संविधान का चीर हरण किया जा रहा है और आप धृत राष्ट्र बनकर बैठे रहोगे तो इतिहास आपको कभी माफ़ नहीं करेगा। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र और संविधान की रक्षा के लिए हमें जनमत को साथ लेना होगा।उन्होंने कहा कि संविधान,लोकतंत्र और न्यायपालिका की रक्षा करना हम सबकी महत्त्वपूर्ण जिम्मेदारी है। आहूजा ने कहा कि आज देश के हालात काफ़ी विकट हैं। देश की संवेधानिक संस्थाओ का खुलकर दुरूपयोग किया जा रहा है इन सबको देखने के बावजूद भी आज अगर आप द्रोणाचार्य बनकर अंधे बने रहोगे और चुप रहोगे तो आने वाली पीढ़ी आपको कभी माफ़ नहीं करेगी। हमें इसका खुलकर विरोध करना चाहिए। संविधान की रक्षा करना हमारी महत्वपूर्ण जिम्मेदारी है.

इसके साथ ही उन्होंने ( आहूजा ) कहा कि हमारे प्रदेश की न्यायपालिका पूरी ईमानदारी के साथ काम कर रही है लेकिन उनके द्वारा किये जा रहे कामों में रोड़े अटकाए जाते हैं। गलत तरीके से टिप्पणी की जाती है ऐसे में हमारी जिम्मेदारी है कि हम हमारी न्यायपालिका की स्वतंत्रता की रक्षा करने का संकल्प लें।

  • एडवोकेट अशोक सिंह रावत ने कहा कि संविधान की मूल भावना को बदलने का कुत्सिक प्रयास किया जा रहा है जिसे रोकने की हम सबकी जिम्मेदारी है। उन्होंने कहा कि रिटायर्ड जजों को आयोग वगैरह का अध्यक्ष बनाया जाना बिलकुल गलत है। इस सम्बन्ध में प्रस्ताव पास करने की महत्ती आवश्यकता है।
  • जबलपुर हाइकोर्ट के अधिवक्ता दीपक पंजवानी ने कहा कि मंच का उद्देश्य अधिवक्ता साथियों का कल्याण करना है और मंच उसी दिशा में काम कर रहा है।भोपाल बार अध्यक्ष दीपक भाई ने कहा कि मंच की वजह से अधिवक्ताओं की गरिमा बढ़ी है। हम मंच के साथ संघर्ष करके प्रदेश में अधिवक्ता सुरक्षा क़ानून लागू करवाने में पूरी कोशिश व संघर्ष करेंगे।
  • मंच की सूरत जिलाध्यक्ष प्रीती जोशी एडवोकेट ने कहा कि मंच के सानिध्य से हमारे प्रदेश के अधिवक्ता भी सुरक्षा क़ानून लागू करवाने के लिए प्रयासरत है उन्होंने कहा कि पूरे देश के अधिवक्ताओं को अपने अपने जिला कलेक्टर के माध्यम से ज्ञापन देकर सरकार का ध्यान आकर्षित करवाना उचित रहेगा।
  • मध्यप्रदेश युवा टीम अध्यक्ष सौरभ ने कहा कि संगठन में ही शक्ति है हाल ही में हमारे खिलाफ अवमानना प्रोसीडिंग लगाई गई थी जो गलत थी तब हम सबने एकजुट होकर उसका मुकाबला किया जिसके चलते अवैध कार्यवाही पर रोक लगी उन्होंने कहा कि मंच हम सबकी ताकत है और हमें भी मंच को मजबूत करना चाहिए।
  • एडवोकेट संतोष आडवाणी ने कहा कि वालेजा साहब की वजह से हम सभी अधिवक्ता एक मंच पर एकत्रित होकर संगठन हित की बात कर रहे हैं ऐसे महान व्यक्तित्व का हम कभी साथ नहीं छोड़ेंगे।
  • एडवोकेट राम अवतार मीणा ने कहा कि लोकतंत्र और संविधान की रक्षा के लिए हमें जनमत का साथ लेना होगा।समाज में इन मुद्दों को ले जाकर जनमत एकत्रित करना होगा,अपनी बात को और संविधान के प्रावधानों को आम जनता के बीच ले जाना होगा। देश में फ़ैल रहे जहरीले वातावरण को रोकने की आवश्यकता है,लोकतंत्र बचेगा तभी न्यायपालिका बचेगी और तभी हमारा अस्तित्व कायम रहेगा।
  • एडवोकेट महेन्द्र सिंह रावत ने कहा कि संविधान के संघात्मक ढांचे को खत्म करने का प्रयास किया जा रहा है जिसे रोकने के लिए हमें आगे आना होगा। तानाशाही करने वालों को रोकना होगा।

हेमंत प्रजापति ने कहा कि हमें अधिकारों के साथ साथ संविधान में दिए गए कर्तव्यों का भी ध्यान रखना होगा। सेमीनार में मध्यप्रदेश सहित देश के विभिन्न प्रदेशों से आए हुए अधिवक्ता मौजूद रहे। सेमिनार में बड़ी संख्या में युवा वकीलों ने संविधान की पालना पर अपने विचार व्यक्त भी किये। कार्यक्रम की समाप्ति के पश्चात् उपस्थित मेहमानों के सानिध्य में लंच का आयोजन भी किया गया।

यह भी पढ़े   एसडीएम ने बारहठ हवेली(संग्रहालय) का अवलोकन किया

मूलचन्द पेसवानी शाहपुरा

जिला संवाददाता, शाहपुरा/भीलवाड़ा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
.site-below-footer-wrap[data-section="section-below-footer-builder"] { margin-bottom: 40px;}