EntertainmentNews

“माँ बाप को भुलना नही” दिल छूने वाली एक संगीतमय शाम

  • मुंबई 


विक्रम बी राठौड़
रिपोर्टर

विक्रम बी राठौड़, रिपोर्टर - बाली / मुंबई 

emailcallwebsite

भूतपूर्व विधायक नरेन्द्र मेहता का अभुतपूर्व आयोजन दिल छु लेने वाली एक संगीतमय शाम “माँ बाप को भुलना नही” अंतरराष्ट्रीय ख्याती प्राप्त अश्विन जोशी दुवारा प्रस्तुत ईस्ट वेस्ट फाऊँडेशन मीरा भायंदर दुवारा आयोजित मिरा भाईन्दर की धर्म धरा धार्मिक दृष्टिकोण से तो मशहूर है, लेकिन संस्कृति व संस्कारो की भी जीवन्त भूमि है, इस भूमि के कर्मरत पूर्व विधायक जो भले ही पक्के राजनीतिक है लेकिन अपनी संस्कृति, अपनी धरोहर, अपनी विरासत और पारस्परिक प्रेम व संबधो को जिवन्त रखकर वर्तमान युवा पीढ़ी को रिश्तो की डोर में बांधकर अपने जन्मदाता माता पिता  के प्रति सम्मान प्रदर्शित करने हेतु विभिन्न प्रकार के सामाजिक आयोजन आयोजित कर एक नया आयाम व आदर्श प्रस्तुत कर रहे है.

“माँ बाप को भुलना नही” माता पिता है तो संसार है,वरना जीवन अंधकार है,माता हमारे जीवन की जड है तो पिता पेड है इन दोनों की सघन छांव में हम जीवन का हर दाव सफलता पूर्वक र्निवाह कर जीवन जीने की कला सिखते है, ऐसे माता पिता का सम्मान हो, उनको हर घर में आदर मिले, उनका शेष जीवन विशेष बने इसलिए भाईन्दर पश्चिम स्थित संतोक सिनेमा मैदान में सुप्रसिद्ध अंर्तराष्ट्रीय कलाकार अश्विन जोशी को आमंत्रित कर मात पिता वंदनावली मा बाप को भूलना नही संगीतमय कार्यक्रम आयोजित करना और हजारों लोगों को सम्मिलित कर रिसते हुए रिश्तों की दरार में प्रेम के करार का बिजारोपण करना बहुत ही अनुमोदनीय व अभिनंदनीय उपक्रम है, जिसकी जितनी सराहना करे कम है।

पूर्व विधायक नरेन्द्र मेहता असल में जन-जन के मन में इस कदर स्थापित हो गए है मानो वो मिरा भाईन्दर के प्रत्येक माता पिता की योग्य संतान हो। पिछले लंबे अर्से से नरेन्द्र मेहता जिस तरह से सतत् एक के बाद एक सामाजिक, धार्मिक, रचनात्मक कार्यक्रम आयोजित कर रहे है निश्चित ही मानवता के कानन में मानवीय संवेनाओं को सहलाने वाले अभुतपूर्व आयोजन है जिसकी जितनी सराहना की जाए कम है। यह जानकारी ललित परमार ने दी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
.site-below-footer-wrap[data-section="section-below-footer-builder"] { margin-bottom: 40px;}