Newsबड़ी खबर

बाली में आयोजित सेवा भारती युवा सेवा संगम में मिस्त्री ने कहा- सेवा युवाओं का स्वभाव बने

बाली।  युवावस्था जीवन का स्वर्णिम काल है, युवाओं को सेवा के लिए आगे आना चाहिए, सेवा युवाओं का स्वभाव बने। उक्त उद्गार सेवा भारती के जोधपुर प्रांत मंत्री चंपत मिस्त्री ने आदर्श विद्या मंदिर बाली में आयोजित युवा सेवा संगम के समापन सत्र में व्यक्त किए।

जोधपुर प्रान्त प्रचार प्रमुख उत्तम गिरी ने सेवा भारती का विस्तृत परिचय कराया
सेवा भारती समिति फालना द्वारा आयोजित युवा सेवा संगम में अनेक क्षेत्रों से आए युवाओ को मिस्त्री ने संबोधित करते हुए कहा कि युवाओं को शिक्षा, स्वास्थ्य, स्वावलंबन और सामाजिक आयाम का अपनी रुचि के अनुसार सेवा कार्य कर अन्यों के सामने रखना चाहिए। प्रांत युवा आयाम प्रमुख श्रवण कुमार ने कहा कि हम कर्तव्य भाव से सेवा कार्य करें। प्रांत सह मंत्री विजय सिंह माली ने कहा कि युवा सेवा कार्यों द्वारा समाज में परिवर्तन ला सकता है, सेवाभारती प्रान्त मंत्री ने उपस्थित युवाओं से सेवाभारती संगठन से जुड़ने का आह्वान किया।

सेवा कार्य करने वाले एक सौ से अधिक युवाओ को स्मृति चिन्ह व प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया,

  • सेवा संगम कार्यक्रम की अध्यक्षता सेवा भारती के जिला अध्यक्ष ओटाराम चौधरी ने की 
सेवा भारती की जिला टीम द्वारा आमंत्रित अतिथियों व युवाओं का दुपट्टा पहना कर व तिलक लगाकर स्वागत करने के बाद भारत माता व सरस्वती माता की तस्वीर पर माल्यार्पण व दीप प्रज्वलन से शुरू हुए इस सेवा युवा संगम में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के जिला संघचालक कन्हैयालाल ने सेवा के महत्व व सेवा कार्यों की आवश्यकता पर प्रकाश डाला।
मंचासीन अतिथियों ने दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया
सेवा भारती जोधपुर प्रांत प्रचार प्रमुख उत्तम गिरी ने सेवा भारती की स्थापना के उद्देश्य, पृष्ठभूमि व सेवा भारती द्वारा किए जा रहे सेवा कार्यों की जानकारी दी तथा युवाओं की भूमिका पर प्रकाश डाला। उससे पहले प्रोजेक्टर के माध्यम से सेवा दर्शन डाक्यूमेंट्री फिल्म युवाओ को दिखाई गई। दूसरे सत्र में समाजसेवी पकाराम चौधरी, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के जिला कार्यवाह मोहनलाल, जिला प्रचारक नारायणलाल व जिला सेवा प्रमुख सूरज सिंह के सानिध्य में  नरेंद्र परमार, ब्रह्मा कुमारी स्नेहा दीदी, दीप्ति दीदी, मनजीत सिंह समेत अलग-अलग स्थानों से आए युवाओं ने अलग अलग-अलग सेवा कार्यों का अनुभव कथन किया। सत्र संचालन लालाराम ने किया। इस अवसर पर सेवा प्रदर्शनी भी लगाई गई जिसका युवाओं ने अवलोकन किया तथा सराहा।
इस एक दिवसीय  बाली, बेड़ा, सुमेरपुर, देसूरी,रानी खंड के 162 युवाओं ने भाग लिया। भंवरलाल टाक, अरविंद परमार ने पंजीयन कार्य किया। मोहनलाल सोलंकी,दीपक, दिनेश लूणिया, तारा दीदी ने व्यवस्था संभाली।इस युवा सेवा संगम में हरिओम पुरी गोस्वामी, चंपालाल लोंगेशा, हितेंद्र सुथार, मनोहर लाल समेत कई युवा उपस्थित रहे।
उल्लेखनीय है कि सेवा भारती नरसेवा नारायण सेवा के ध्येय के साथ शिक्षा, स्वास्थ्य, स्वावलंबन तथा सामाजिक आयाम के सेवा कार्य करती है। युवाओं को सेवा से जोड़ने के लिए एक दिवसीय युवा सेवा संगम का आयोजन किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
.site-below-footer-wrap[data-section="section-below-footer-builder"] { margin-bottom: 40px;}