Newspoliticsबड़ी खबर

नोएडा में किसानों का धरना प्रदर्शन, एक्सप्रेस-वे ठप्प, हाइलेवल कमेटी गठन के आश्वासन पर माने

भारतीय किसान परिषद के अध्यक्ष सुखबीर खलीफा ने बताया कि वे अपने-अपने धरनों पर जा रहे हैं, और झूठे आश्वासनों की बजाय हकीकत में विश्वास कर रहे हैं। अगर मांगों का समाधान नहीं हुआ तो वे दिल्ली के लिए मार्च करेंगे।

किसानों का धरना प्रदर्शन: धरने पर बैठे किसानों ने 5 घंटे बाद एक्सप्रेस-वे से हट गए हैं। हाइलेवल कमेटी के गठन के आश्वासन पर एक्सप्रेस-वे से किसानों का प्रदर्शन समाप्त हो गया है। कमेटी के पदाधिकारियों के साथ 8 दिनों में किसानों की मांगों का समाधान कराने का आश्वासन मिला है। किसान कमेटी की रिपोर्ट के बाद आगे की रणनीति तय की जाएगी और रात में 8 बजे कमीश्नर से मीटिंग होगी।

इस समय, नोएडा और ग्रेटर नोएडा विकास प्राधिकरण के बदले मुआवजे और भूखंड की मांग के साथ किसान ने दिल्ली की ओर मार्च करने का आह्वान किया था। इसके परिणामस्वरूप दिल्ली की सीमा पर सुरक्षा की बढ़ोतरी हुई है और रास्तों पर भारी जाम लग गया है। भारतीय किसान परिषद ने अपने कार्यालय के बाहर शिविर लगाया है और किसान नेता राकेश टिकैत ने ग्रेटर नोएडा में प्रदर्शनकारियों के साथ शामिल होकर प्रदर्शन किया है।

यह भी पढ़े केंद्र सरकार ने गेहूं के बढ़ते दामों को रोकने के लिए स्टॉक सीमा में की कटौती

भारतीय किसान परिषद के अध्यक्ष सुखबीर खलीफा ने कहा कि हम रोडों को खाली करके अपने-अपने धरने की जगह पहुंच रहे हैं। हम झूठे आश्वासनों के साथ नहीं हैं, अगर हमारी मांग पूरी नहीं हुई तो दिल्ली दूर नहीं है। कमेटी के पदाधिकारियों के साथ 8 दिनों में किसानों की मांगों का समाधान कराने का आश्वासन मिला है। किसान कमेटी की रिपोर्ट के बाद आगे की रणनीति तय की जाएगी और रात में 8 बजे कमीश्नर से मीटिंग के लिए बुलाया गया है।

किसानो के धरने प्रदर्शन के कारण दिल्ली जाने वाली सड़कों पर भारी जाम लगा है। बीते कई दिनों से किसान नोएडा और ग्रेटर नोएडा विकास प्राधिकरण की ओर से अधिग्रहित जमीनों के बदले बढ़े हुए मुआवजे की मांग कर रहे थे, इसके अलावा वह भूखंड की भी मांग कर रहे हैं। इसको लेकर किसानों ने दिल्ली की तरफ मार्च करने का आह्वान किया था। गुरुवार (8 फरवरी) को किसानों और ग्रामीणों के दिल्ली की तरफ मार्च करने को लेकर नोएडा पुलिस अलर्ट हो गई और दिल्ली से लगी सीमा पर सुरक्षा बढ़ा दी गई। जिससे इस रूट पर भारी जाम लग गया।

यह भी पढ़े  कई व्यापारियों के लिए आयकर का नियम 43B बन रहा है गले की हड्डी – शंकर ठक्कर

भारतीय किसान परिषद ने इस कार्यालय पर शिविर लगाया है। इस प्रदर्शन में किसान नेता राकेश टिकैत भी दोपहर को ग्रेटर नोएडा में प्रदर्शनकारियों के ग्रुप में शामिल हुए। उनका संगठन भारतीय किसान यूनियन (बीकेयू) के सदस्य स्थानीय प्राधिकरण के कार्यालय के बाहर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। नोएडा में प्रदर्शनकारियों का अगुवाई भारतीय किसान परिषद कर रही है, भारतीय किसान परिषद कार्यकर्ताओं ने दिसंबर 2023 से स्थानीय प्राधिकरण के कार्यालय के बाहर शिविर लगा रखा है।

यह भी पढ़े  आरएसएस के वरिष्ठ प्रचारक सत्य नारायण का शरीर पंचतत्व में विलीन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
.site-below-footer-wrap[data-section="section-below-footer-builder"] { margin-bottom: 40px;}